30 अक्टूबर से एचईसी मैदान धुर्वा में 3 दिवसीय झारखण्ड माइनींग शो का आयोजन

0
73

अशोक कुमार झा

जिला संवाददाता, रांची। उद्योग खान एवं भूतत्व विभाग के सचिव श्री सुनील कुमार वर्णवाल ने कहा कि झारखण्ड पूरे देश में खनन उद्योग के लिए जाना जाता है। राज्य में खनिजों के उत्खनन के ही उद्योग है। खनन उद्योग से संबंधित उपकरणों के निर्माण के लिए संयंत्र स्थापित कराने वाले अधिक्तर उद्योग दक्षिण भारत में व्यवस्थित है। झारखण्ड राज्य की जलवायु, यहाँ के ईज ऑफ डूइंग बिजनेस, मैन पावर और झारखण्ड सरकार के उद्योग को बढ़ावा देने वाले नीतियों से राज्य में इससे संबंधित उद्योग लगाने हेतु महत्वपूर्ण पृष्ठभूमि तैयार की जा रही है। इसी दिशा में 30 अक्टूबर से एचईसी मैदान धुर्वा में 3 दिवसीय  झारखण्ड माइनींग शो का आयोजन किया जा रहा है। श्री वर्णवाल आज सूचना भवन सभागार में संवादाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे ।

श्री सुनील कुमार वर्णवाल ने कहा कि झारखण्ड माइनींग शो का मुख्य उद्देश्य माईंनिंग के छेत्र में  उद्योगों को बढ़ावा देना है। इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में देश-विदेश के कई कम्पनी और देश के बड़े कम्पनियों के प्रतिनिधि शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि राज्य में पहली बार ग्लोबल माइनींग सम्मीट हो रहा है। इस सम्मेलन का आयोजन सीआईआई के माध्यम से कराया जा रहा है कोल इंडिया, टाटा स्टील, सेल, एनटीपीसी इस आयोजन के सहयोगी हैं इस आयोजन के माध्यम से यह प्रयास किया जायेगा कि राज्य में खनन उद्योग से संबंधित उपकरणों के निर्माण के लिए संयंत्र लगे। अगले महीने से राज्य  में कई मिनरल ब्लॉक की निलामी होने वाली है जिसमें कम्पनियाँ शामिल हो सकती है। राज्य सरकार की नीतियाँ माइनींग और मीनरल उद्योग के लिए अनुकूल माहौल उपलब्ध करा रही है इस सम्मेलन में इन उद्योंगों के लिए भविष्य की संभावनाओं की भी तालाश की जाएगी। राज्य के तकनीकि संस्थानों में पढ़ने वाले छात्रों के अलावा आम जनता भी तय समय मर प्रवेश पा सकेंगे।

इस अवसर पर खान निदेशक, सीसीएल और सेल के प्रतिनिधी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)