ऑटो में जन्मा बच्चा , नहीं मिला ममता वाहन का लाभ

0
118

लातेहार।  सरकार की ओर से संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, लेकिन अक्सर विचलित करने वाली खबरें आती रहती हैं। समय पर ममता वाहन नहीं मिलने से कभी एनएच 75 पर खेत में तो कभी चलती गाड़ी में प्रसव के मामले सामने आ रहे हैं। जिससे राज्य भर में लातेहार जिले की बदनामी हो रही है। रविवार को एक बार फिर लातेहार सदर अस्पताल लाने के क्रम में गर्भवती महिला ने ऑटो में बच्चे को जन्म दिया। जिला मुख्यालय से पांच किलोमीटर दूर स्थित लातेहार रेलवे स्टेशन बाजकुम ग्राम निवासी सुनील भुइया की पत्नी मीना देवी को ममता वाहन का लाभ नहीं मिलने के कारण ऑटो से ही सदर अस्पताल लाया जा रहा था। अस्पताल पहुंचने के क्रम में रास्ते में ही उसका प्रसव हो गया। बच्चे को जन्म देने के बाद स्वास्थ्यकर्मियों ने जच्चा व बच्चा को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सक के देखरेख में सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। ममता वाहन कॉल सेंटर में किसी ने नहीं उठाया फोन :  लातेहार रेलवे स्टेशन के बाजकुम ग्राम निवासी सुनील भुइयां ने अपनी पत्नी को सदर अस्पताल लाने के लिए ममता वाहन कॉल सेंटर में फोन किया लेकिन किसी ने फोन रिसिव नहीं किया। इसके बाद परिजन महिला को ऑटो से लातेहार सदर अस्पताल के लिए निकले लेकिन अस्पताल पहुंचने से पूर्व ही महिला ने रास्ते में बच्चे को जन्म दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)