हर संकट की काट हैं हनुमान जी के शक्तिशाली मंत्र, चौतरफा मुश्किलों में घिरे अवश्य आजमाएं

0
234

कालों के काल महाकाल शिव का अवतारी स्वरूप होने से श्री हनुमान बुरे वक्त की मार से रक्षा कर, समय को अनुकूल, सुख-समृद्ध भी कर देते हैं। हर संकट की काट के लिए हनुमान उपासना का महत्व बताया गया है। हनुमान जी जल्द ही प्रसन्न होने वाले देवताओं में से एक हैं और इसके लिए कुछ चमत्कारी मंत्र यहां बताए जा रहे हैं। इन मंत्रों की सही विधि जानकर आप इनका जाप करें जिससे हनुमान जी प्रसन्न होकर आप पर कृपा बरसाएंगे। जब मनुष्य चौतरफा संकटों से घिर जाता है, उनसे निकलने का रास्ता तलाशने में वह विफल हो जाता है तब हनुमान जी के इस मंत्र जाप से बहुत लाभ मिलता है। शिव मंदिर में जाकर निम्न हनुमान मंत्र का रुद्राक्ष की माला से जाप करें।
आदिदेव नमस्तुभ्यं सप्तसप्ते दिवाकर!
त्वं रवे तारय स्वास्मानस्मात्संसार सागरात!!

मंगलवार के दिन दक्षिणमुखी या पंचमुखी हनुमान के दर्शन कर चरणों में नारियल अर्पित कर उनके चरणों का सिंदूर मस्तक पर लगाएं। नियत संख्या जैसे 11, 21, 51 हनुमान मंदिर में श्री हनुमान के अलग-अलग स्वरूपों के दर्शन करें। इस उपाय से परेशानियों एवं बाधाओं से मुक्ति मिलती है।
भय नाश करने के लिए हनुमान मंत्र : हं हनुमंते नम:
प्रेत भूत बाधा दूर करने के लिए: हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल:। अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते।।
द्वादशाक्षर हनुमान मंत्र : ऊँ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट।
मनोकामना पूर्ण करवाने के लिए : महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते। हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये।।
शत्रुओं और रोगों पर विजय पाने के लिए :ऊँ नमो हनुमते रुद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा
संकट दूर करने का हनुमान मंत्र : ऊँ नमो हनुमते रुद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा
कर्ज से मुक्ति के लिए मंत्र : ऊँ नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)