समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य के सामने उमड़ा चार वर्षीय बच्चे का दर्द

0
118

देहरादून:चार वर्षीय मोली से जब समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य को देखा तो उसका दर्द उमड़ पड़ा l  मंत्री ने जैसे ही उससे उस  दिन के हादसे के बारे में पूछा तो वह बोली की बलेअजल ने जलायाl इस पर शिशु निकेतन स्टाफ एक दूसरे का मुह देखने  लगा इसके बाद मंत्री ने जब बच्चो से  वर्णमाला लिखने को कहा तो बच्चे नहीं लिख पाए l इतना ही नहीं शिशु निकेतन में   रहने वाले कुछ बच्चे स्कूल भी नहीं जाते है l तो बालिका निकेतन में पर्याप्त पाठ्य सामग्री तक नहीं है l बच्चो के खेलने का पार्क भी नहीं है बच्चो के खेलने का पार्क भी बदहाल है l यह सब देखने मंत्री भड़क गए और वहा के स्टाफ को सभी व्यवस्था दुरुस्त करने को कहा l केदारपुर स्थित शिशु निकेतन में तीन साल पहले बच्चो मोली गरम पानी से जल गई थी l तब डॉक्टर का कहना था l कि पानी बहुत तेज था की पानी बहुत तेज गरम था l इसी कारन घाव है और ओपरेशन करना होगा तब से चार वर्षीय मोली के पैर की ओर कोई ध्यान नहीं दिया अपर सचिव समाज कल्याण मनोज चन्दन की रिपोर्ट में बताया गया था l कि पानी गीजर का था व् गरम था l  दूसरे बच्चे ने जैसे ही पानी को खोला वह उस पर गिर गया था l किसी ने उसे जलाया नहीं था l अब मोली ने पैर दर्द की शिकायत की तो अधीशिक्षित ने जिला प्रोबेशन अधिकारी तक बात पहुचाई l अब जुलाई माह में मोली का ओपरशन हुआ l मामला पर समाज कल्याण मंत्री मंगलवार को शिशु निकेतन पहुचे l उन्होंने मोली से बात कि लेकिन मोली ने साफ नहीं बोल पा रही थी l पैर जलने पर मोली सिर्फ इतना बोली की अजय ने जलाया था l मंत्री ने कहा बैठे बच्चो से हिंदी की वर्णमाला लिखवाई तो बच्चे नहीं लिख पाए l और किताब चेक की तो  फटी मिली साथ ही सभी बच्चो को स्कूल नहीं भेजे जाने पर भी नाराजगी जाहिर की मंत्री बालिका निकेतन पहुचे और बालिकाओ के लिए पर्याप्त पाठ्य सामग्री नहीं होने पर नाराजगी जताई हैं इस मोके पर जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट ने मंत्री के सवालो का उत्तर दिया इस पर मंत्री ने जल्द से जल्द सभी व्यवस्थाए सुधरने को लेकर चेतावनी दी और कहा कि मामले को आगे तक पहुचाएंगे l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)