लखनऊ के भीटा आश्रम के परिवार समेत महंथ हत्या आरोप में गिरफ्तार

0
157

लखनऊ

डॉ.रामनोहर लोहिया हॉस्पिटल में गुरुवार को रात 8 बजे मदहोश अवस्था मे भर्ती कराई गई गोंडा की प्राची तिवारी(22 वर्ष) की मौत हो गई।

भर्ती कराने वाले दोनों युवक मौके से ही फरार हो गए,अस्पताल के रजिस्टर में उन्होंने अपने को भाई और पता भीटा आश्रम डाला था जिसके आधार पर पुलिस आरोपियों तक पहुंच पाई।

मामला तब और गंभीर हो गया जब पोस्टमार्टम में ज़हर से मौत होने का खुलासा हुआ और शव का शिनाख्त करने पहुंचे पिता ने अपने चचेरे भाई अभिमन्यु तिवारी और उसके परिवार जिसमे 1 बेटा 2 बेटी व 1 अन्य पर ही हत्या का आरोप लगा दिया।। जिनको पुलिस ने पॉलिटेक्निक चौराहै से गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।।

डॉक्टरों को बताया गया कि गोंडा निवासी युवती अमराई इलाके में किराए पर हती है। इलाज के दौरान युवती की हालत बिगड़ने की जानकारी पर युवक अस्पताल से खिसक गए थे। कुछ देर बाद युवती की मौत होने पर साथ आए युवकों के भागने की जानकारी पर खलबली मच गई। सूचना पर विभूतिखंड और इंदिरानगर पुलिस अस्पताल पहुंची। इंदिरानगर पुलिस ने छानबीन शुरू करने के साथ ही गोंडा निवासी परिवारीजनों को सूचना दी। मौके पहुंचे पिता ने हत्या का आरोप लगाते हुए इंदिरानगर निवासी अभिमन्यु तिवारी, अनुराधा तिवारी, सुचि तिवारी, कार्तिक और शुभम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई है। आरोप है कि पांचों ने जहर देखकर युवती की हत्या की है। पुलिस के अनुसार चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके साथ ही फरार चल रहे शुभम की तलाश में छापे मारे जा रहे हैं।

आरोपी अभिमन्यु तिवारी अयोध्या जिले के गोसाईगंज थाना क्षेत्र के कौलापुर तन्डौली का रहने वाला है और पिछले कई साल से भीटा आश्रम में रहता है।

बहलाकर लाए थे आरोपित

पीड़ित पिता के अनुसार आरोपित करीब दो महीने पहले उनकी बेटी को बहला-फुसला कर साथ ले आए थे। इसके साथ ही बेटी को अपने पास रखे थे। इस दौरान वापस बुलाने का प्रयास किया, लेकिन आरोपित दबाव बनाकर उसे साथ ही रखे रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)