राष्ट्रीय बीज निगम लिमिटेड ने केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह को वर्ष 2016-17 का लाभांश सौंपा

0
512

राष्ट्रीय बीज निगम लिमिटेड (एनएससी) ने वर्ष 2016-17 के लिए आज तक का सर्वाधिक 12.03 करोड़ का लाभांश वितरित किया

नई दिल्ली: राष्ट्रीय बीज निगम लिमिटेड ने अभी तक के सर्वाधिक 12.03 करोड़ रुपए के लाभांश का भारत सरकार को भुगतान किया। जो प्रभावी कर के बाद लाभ (पीएटी) का 30% है। पिछले तीन वर्षों के दौरान कंपनी ने क्रमश: 2013-14 के लिए 4.12 करोड़ रुपये, 2014-15 के लिए 8.12 करोड़ और 2015-16 के लिए 11.46 करोड़ रुपये के लाभांश का भुगतान किया है। इसके अलावा निगम ने केन्द्रीय राजकोष के लिए 28.95 करोड़ रुपये का भुगतान किया, जिसमें 2.45 करोड़ रुपये लाभांश कर, 25.35 करोड़ रुपये आयकर और 1.15 करोड़ रुपये सेवा कर के रूप में शामिल हैं। इस तरह 2016-17 के लिए केन्द्र सरकार राजकोष में निगम ने 40.98 करोड़ रुपये का भुगतान किया है।   एनएससी अध्यक्ष ने केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह को लाभांश चैक प्रस्तुत किया। इस अवसर पर कृषि, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग के सचिव डॉ एस.के. पटनायक, संयुक्त सचिव (बीज), डॉ बी राजेंद्र भी मौजूद थे।

एनएससी कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत बीज के उत्पादन और विपणन के लिए शीर्ष स्तर की सरकारी कंपनी है। जिसके पास गुणवत्ता युक्त बीज  के उत्पादन  के लिए पर्याप्त बुनियादी ढांचा, भूमि संसाधन और जल  भण्डार हैं।  देश में खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए किसानों को उचित कीमत पर बीज उपलब्ध कराए जाते हैं।

वर्ष 2016-17 के लिए अन्य वित्तीय जानकारी

कुल राजस्व –   882.82 करोड़ रुपये

टैक्स से पहले लाभ – 77.86 करोड़ रुपये

2015-16 की तुलना में पीबीटी में वृद्धि –   16%

शुद्ध लाभ – 51.80 करोड़ रुपये

प्रदत शेयर पूंजी – 57.32 करोड़ रुपये

निवल सम्पत्ति,  संयंत्र और उपकरण

(31.03.2017 के अनुसार) – 186.40 करोड़ रुपये

प्रति शेयर आय – 903.76 रुपये

लाभांश भुगतान (कर सहित) – 14.48 करोड़ रुपये

ये वित्तीय उपलब्धियां लागत में कमी और संसाधनों के अधिकतम उपयोग के लिए  के लिए किये गये  सभी प्रयासों द्वारा अर्जित की गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)