फर्जी कॉल सेंटरों के खिलाफ यूपी एसटीएफ की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी रही

0
147

नोएडा : एसटीएफ के एसपी डॉण् त्रिवेणी सिंह के नेतृत्व में टीम ने शुक्रवार को भी नोएडा के दो फर्जी कॉल सेंटर पर call centerछापा मारा। जिसमें कॉल सेंटर के अंदर ही कर्मी बीयर पार्टी करते पकड़े गए।
इसमें से एक कॉल सेंटर बंद मिला। दूसरे कॉल सेंटर से एसटीएफ ने पांच लड़कियों समेत कुल 17 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस कॉल सेंटर से भी फर्जी बीमा कंपनी के नाम पर देशभर में लोगों को ठगा जा रहा था। एसपी डॉण् त्रिवेणी सिंह ने बताया कि शुक्रवार को सेक्टर.16 के एक फर्जी कॉल सेंटर पर टीम गई थीए लेकिन वहां ताला मिला। हो सकता है कि बृहस्पतिवार की कार्रवाई के बाद कंपनी बंद कर दी गई होगी।
इसके बाद सेक्टर.27 में विनायक अस्पताल के पीछे श्रीजी कांप्लेक्स की दूसरी मंजिल पर चल रहे फर्जी कॉल सेंटर में छापा मारा गया। यहां से निठारी निवासी प्रकाश कुमार व योगेशए छलेरा में रहने वाले अर्पित और छिजारसी में रहने वाले मोहित कुमार को गिरफ्तार किया गया। मोहित मूल रूप से जसनावली बुलंदशहर का रहने वाला है। अर्पित मूलरूप से ओलन्दगंज निकट गुरुद्वारा थाना लाइनपार जौनपुर का रहने वाला है
इसके अलावा गिरफ्तार लोगों में पांच लड़कियों समेत 13 और लोग शामिल हैं। ये कंपनी के कर्मचारी हैंए जिन्हें फर्जीवाड़े की पूरी जानकारी थी। इनके पास से छह मोबाइल फोनए तीन कंपनियों के एफएनएफ सोल्यूशनए बिओलो सर्विसेज और एके सर्विसेज के नाम के दस्तावेज व पांच बैंक खातों की जानकारी मिली है
साथ हीए आरोपियों के पास से 1200 रुपये और भारी मात्रा में कई बीमा कंपनियों के ग्राहकों का गोपनीय डाटा बरामद किया गया है। ये लोग भी बंद पड़ी बीमा पॉलिसी को चालू करानेए बोनस देने और मैच्योरिटी के नाम पर लोगों से अपने खातों में पैसे ट्रांसफर करा ठगी करते थे। अब तक ये लोग कितने रुपयों की और कितने लोगों से ठगी कर चुके हैंए इसकी जांच की जा रही है।एसपी डॉण् त्रिवेणी सिंह ने बताया कि जिस वक्त उनकी टीम ने कॉल सेंटर पर छापा माराए वहां बीयर पार्टी चल रही थी। लड़के.लड़कियां सभी खुले आम बीयर पी रहे थे। वो भी अपनी सीट पर बैठकर। पूरे कॉल सेंटर की टेबल पर चिप्सए नमकीन के पैकेटए कोल्ड ड्रिंक्स और बीयर के केन पड़े थे पूछताछ में पता चला कि कॉल सेंटर के कर्मचारियों को अक्सर ऑफिस में ऐसी पार्टी दी जाती थी। इससे भी साफ है कि कर्मचारियों को कॉल सेंटर में हो रहे फर्जीवाड़े का पता था।
12 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े का किया था खुलासा एसटीएफ की टीम ने नोएडा के सेक्टर.11 व 63 के दो फर्जी कॉल सेंटर पर छापा मारा था। दोनों कॉल सेंटर से 12 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ था। दोनों कॉल सेंटर से एसटीएफ टीम ने मुख्य नौ आरोपियों समेत कुल 43 लोग गिरफ्तार किए थे। इनमें भी कई लड़कियां शामिल थीं डाटा वेंडरों की तलाश तेज बीमा कंपनी के नाम पर हो रहे फर्जीवाड़े को देखते हुए एसटीएफ ने उनके डाटा वेंडरों की जांच तेज कर दी है।दो दिन की कार्रवाई में सामने आया है कि बीमा कंपनियों के वास्तविक डाटा वेंडरों के जरिये फर्जी कॉल सेंटरों को वास्तविक ग्राहकों का गोपनीय डाटा उपलब्ध कराया जा रहा हैए इसीलिए एक्जीक्यूटिव पूरी डिटेल के साथ लोगों को फोन कर उन्हें भरोसे में ले लेते हैं।
शेख अरीब खान की रिर्पोट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)