नामचीन कम्पनी कि बाईक हुई टाय टाय फिस्स

0
213
आज के दौर मे मोटरसाईकल एक ऐसा साधन बन चुका है जिसके बिना किसी का IMG-20170823-WA0037काम नही चलता हर छोटे बडे व्यापारी कि आस बनी मोटरसाईकल के बारे मे अगर व्यापारी को पता लगे कि उसने जिस नामचीन कम्पनी कि बाईक ली है उसने उसे एक ऐसी बाईक पकडाई है जो तकनिकी तौर पर बिमार है उस पर कया बीतेगी ये कहानी है हरियाणा के त्रिवेणी शहर डबवाली के निवासी परमानन्द s/o सहाब राम निवासी ग्राम डबवाली सिरसा कि है घटना का ब्यौरा कुछ इस प्रकार है।यहाँ कि एक नामचीन बाईक कम्पनी से खरीदी गई ये बाईक पिछले लगभ एक महिने से खरीददार के लिए सिरदर्द बनी है जब हमारे पास इसकी खबर पहुचीँ तब हमने खरीददार से सम्पर्क किया तो उसने हमे बताता
कि सहाब ये बाईक मैने एक महिने पहले ली मै एक ट्रक बाडी रिपेयर करने वाला हुँ वसुली के लिए मोटरसाईकल लोन पर लि किस्त तो आ गई पर मोटरसाईकल पहले दिन से ही नही चली जब हमने डबवाली ऐजंसी को बताया तो उन्होने इस बाईक को सिरसा हरियाणा मे मुख्य ब्राच भेजा एक सप्ताह बाद उन्होने बाईक सही है कह कर पकडा दिया पर अफसोस बाईक फिर दस किलोमिटर के बाद बदं हो गई बाद मे डबवाली ऐजसीं ने मोटरसाईकल का अस्थी पिजंर अलग कर दिया परन्तु वो हमे सन्तुष्ट नही कर पाये हमने ऐजंसी से इुस का इन्जनं बदलने या नया बाईक देने कि मागं कि परन्तु हमे ऐजंसी वही बाईक देना चहाती है अब हम कोर्ट जायेगे :-परमानन्द मोटरसाइकल  ग्राहक  
वही जब Satyagrah News Agencyasia ऐजंसी के लैडलाईन न० पर सम्पर्क किया तो उन्होने उसे IMG-20170823-WA0038उठाने का कष्ट नही किया इससे पता लगता है कि कितना अच्छा है इस ऐजंसी का जनसम्पर्क विभाग फिर हमने ऐजसीं के अन्य न० 9467736684 पर सम्पर्क साधा तो ऐजसी के जहाँ एक नुमाईंनदे ने मान लिया कि बाईक की समस्या आई थी वही ऐजसीं के कथित मालिक ने ऐसी किसी बाईक से पल्ला झाडने कि कोशिश करते नजर आये
यहाँ बता दे कि Satyagrah News Agency के पास वह सभी सबुत है जो एक मोटरसाईकल बेचते समय ऐजसी देती अब सवाल ये उठता है
कि इस बाईक के निर्माण मे कमी है या कुछ और इसकी तह मे जाने के लिऐ अलग अलग बाईक खरिददारो से राय जानने व डबवाली ऐजसीं के बुरे व्यहवार कि जाचँ कर खुलासा करेगीं  हमारी टीम
सुत्रो कि माने तो बाईक अभी भी है डबवाली ऐंजसी मे फिर कयो झुठ बोला कथित मालिक ने?अगर सच मे ही बाईक ऐजंसी मे है,तो बाईक मे कया है खराबी जल्द करेगें हम इसका खुलासा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)