गुमला में एक करोड़ के इनामी नक्सली सुधाकरण के ‘मददगार’ ठेकेदार मनोज सिंह के घर NIA का छापा

0
211

गुमला । झारखंड पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन चुके एक करोड़ रुपये के इनामी नक्सली सुधाकरण के खात्मे के लिए जांच एजेंसियां पूरी तरह से सक्रिय हो चुकी हैं. नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) इस बड़े नक्सली नेता से जुड़े तमाम तार को काट देना चाहती है. इसलिए झारखंड के उग्रवाद प्रभावित जिला गुमला में बुधवार की सुबह करीब 10 बजे छापामारी की.

NIA की टीम सुबह-सुबह सिसई रोड पर स्थित बड़े ठेकेदार मनोज सिंह के घर छापामारी की. जांच अधिकारियों ने मनोज सिंह से पूछताछ तो की ही, उसके घर के तमाम कागजात भी खंगाले. NIA को आशंका है कि ठेकेदार नक्सली नेता सुधाकरण का मददगार है. नक्सली जो लेवी से पैसे जुटाते हैं, उसे बाजार में खपाने और उससे मोटी कमाई करने में मनोज सिंह नक्सलियों की मदद करता है.

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों ही गुमला में NIA की टीम ने एक रेस्ट हाउस पर छापा मारा था. बताया जाता है कि रिपोज रेस्ट हाउस नक्सलियों का सुरक्षित ठिकाना रहा है. बूढ़ा पहाड़ पर जब पुलिस सघन अभियान चलाती थी, तब सुधाकरण अपने साथियों के साथ इस रेस्ट हाउस में शरण लेता था. रेस्ट हाउस के मैनेजर को NIA ने उठाया था और पूछताछ करने के बाद उसे छोड़ दिया था.
सूत्रों की मानें, तो रिपोज रेस्ट हाउस के मालिक से पूछताछ के आधार पर ही NIA ने ठेकेदार मनोज सिंह पर हाथ डाला है. सुबह 10 बजे के आसपास शुरू हुई छापेमारी की कार्रवाई समाचार लिखे जाने तक जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)